Hanuman Jayanti 2021: सिद्धि योग में प्रभु हनुमान का जन्मोत्सव, जानिए खास बातें

0
2
Advertisement


Astrology

lekhaka-Gajendra sharma

|

नई दिल्ली, 27 अप्रैल। सप्त चिरंजीवी में से एक और भगवान राम के अनन्य सेवक भगवान श्री हनुमानजी का जन्मोत्सव आज यानी कि चैत्र पूर्णिमा पर सिद्धि योग और स्वाति नक्षत्र में मनाया जा रहा है। इस दिन सूर्य भरणी नक्षत्र में प्रवेश करेगा और वैशाख स्नान भी इसी दिन से प्रारंभ होगा। विशेष योग-संयोगों में आ रहा हनुमान जन्मोत्सव सर्वसिद्धिदायक रहेगा। इस दिन हनुमानजी को प्रसन्न करने के लिए उन्हें सिंदूर का चोला चढ़ाएं, श्रीफल, गुड़, चने-चिरौंजी, हलवे आदि का नैवेद्य लगाएं और सुंदरकांड, हनुमान चालीसा, हनुमान बाहु अष्टक, बजरंग बाण आदि का पाठ करने से सर्वत्र रक्षा होगी, सुख-समृद्धि की प्राप्ति होगी, रोगों से मुक्ति मिलेगी।

Hanuman Jayanti 2021: Hanuman Jayanti आज, जानें शुभ मुहूर्त और पूजा का महत्व । वनइंडिया हिंदी

Hanuman Jayanti 2021: सिद्धि योग में मंगलवार को मनेगा हनुमान जन्मोत्सव

घर में कैसे करें हनुमानजी की पूजा

इस समय कोरोना महामारी के कारण कई राज्यों में मंदिर बंद हैं। जहां खुले हैं वहां भी मंदिरों में भीड़ लगाकर इकठ्ठा होना स्वयं के स्वास्थ्य की दृष्टि से ठीक नहीं है, इसलिए अपने घरों में रहते हुए ही हनुमान जन्मोत्सव का पूजन करें। इसके लिए अपने घर में एक चौकी पर लाल वस्त्र बिछाकर उस पर हनुमानजी की मूर्ति या चित्र स्थापित करें। पंचोपचार, दशोपचार या शोडषोपचार पूजन संपन्न करें। हनुमान जी को हलवे का नैवद्य अर्पित करें। हनुमान चालीसा या जो भी स्तोत्र-पाठ आदि आप करना चाहते हैं वह करें। कर्पूर से आरती करें और प्रसाद ग्रहण करें।

सिद्धि योग और मंगलवार का शुभ संयोग

हनुमानजी का जन्म मंगलवार को ही हुआ था और इस बार मंगलवार को ही पूर्णिमा आ रही है। इसलिए यह दिन विशेष बन गया है। इस दिन 27 योगों में सर्वत्र सिद्धि प्रदान करने वाला सिद्धि योग भी बन रहा है। इसलिए हनुमानजी की पूजा विशेष फलदायी होगी। इस दिन मंगल-शनि का षडाष्टक योग भी बना हुआ है जिसके दुष्प्रभाव कम करने में हनुमानजी की पूजा विशेष प्रभावी रहेगी।

English summary

This year Hanuman Jayanti is on 27th, siddhi yoga being made on Bajrangbali’s Birthday, here is full details.



Source link

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here